careerFeaturedNewsUttarakhand

उत्तराखंड में युवाओं के लिए खुशखबरी, पुलिस सब इंस्पेक्टर और इन पदों की भर्ती का खास अपडेट

Sub Inspector (Civil Police/Intelligence), Fire Station Second Officer And Platoon Commander, Male(PAC/IRB) Exam-2024

Notification regarding reopen Online Application link

हरिद्वार। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने उप निरीक्षक (नागरिक पुलिस / अभिसूचना), गुल्मनायक (पी.ए.सी./आई.आर.बी.) एवं अग्निशमन द्वितीय अधिकारी परीक्षा-2024 के ऑनलाइन आवेदन का एक बार फिर अवसर दिया है।

आयोग के अनुसार, उप निरीक्षक (नागरिक पुलिस / अभिसूचना), गुल्मनायक (पी. ए.सी. / आई.आर.बी.) एवं अग्निशमन द्वितीय अधिकारी परीक्षा-2024 के रिक्त 222 पदों के लिए अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन 20 फरवरी, 2024 तक आमंत्रित किए गए थे।

आयोग प्रश्नगत परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हेतु लिंक / विंडो को मात्र एक बार के लिए दिनांक 16.03.2024 से दिनांक 22.03.2024 (रात्रि 11:59:59 बजे) तक पुनः खोला जा रहा है।

ऑनलाइन आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को उक्त अवधि के पश्चात ऑनलाइन आवेदन में Correction (संशोधन) हेतु अतिरिक्त समय प्रदान नहीं किया जाएगा तथा इस संबंध में अभ्यर्थी के किसी भी प्रत्यावेदन पर विचार नहीं किया जाएगा।

अभ्यर्थी विस्तृत जानकारी हेतु आयोग की वेबसाईट psc.uk.gov.in पर विज्ञापन का अवलोकन अवश्य करें।

देखें – अधिक जानकारी के लिए आय़ोग की विज्ञप्ति

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में वाहन चालकों की सरकारी नौकरियां, 19 मार्च से ऑनलाइन आवेदन

यह भी पढ़ें- आचार संहिता से पहले UKPSC ने जारी किया PCS -2024 परीक्षा का नोटिफिकेशन

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में प्रिंसिपल के 692 पद, 14 मार्च से शुरू होंगे आवेदन

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में सहायक अध्यापक (एलटी) के 1544 पद, 22 मार्च से आवेदन शुरू होंगे

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड वन विकास निगम में नौकरियां, ऑनलाइन आवेदन 18 मार्च से

यह भी पढ़ें- देखें- Uttarakhand PCS Exam 2024 का विस्तृत विज्ञापन

Rajesh Pandey

राजेश पांडेय, देहरादून (उत्तराखंड) के डोईवाला नगर पालिका के निवासी है। पत्रकारिता में  26 वर्ष से अधिक का अनुभव हासिल है। लंबे समय तक हिन्दी समाचार पत्रों अमर उजाला, दैनिक जागरण व हिन्दुस्तान में नौकरी की, जिनमें रिपोर्टिंग और एडिटिंग की जिम्मेदारी संभाली। 2016 में हिन्दुस्तान से मुख्य उप संपादक के पद से त्यागपत्र देकर बच्चों के बीच कार्य शुरू किया।   बच्चों के लिए 60 से अधिक कहानियां एवं कविताएं लिखी हैं। दो किताबें जंगल में तक धिनाधिन और जिंदगी का तक धिनाधिन के लेखक हैं। इनके प्रकाशन के लिए सही मंच की तलाश जारी है। बच्चों को कहानियां सुनाने, उनसे बातें करने, कुछ उनको सुनने और कुछ अपनी सुनाना पसंद है। पहाड़ के गांवों की अनकही कहानियां लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं।  अपने मित्र मोहित उनियाल के साथ, बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से डेढ़ घंटे के निशुल्क स्कूल का संचालन किया। इसमें स्कूल जाने और नहीं जाने वाले बच्चे पढ़ते थे, जो इन दिनों नहीं चल रहा है। उत्तराखंड के बच्चों, खासकर दूरदराज के इलाकों में रहने वाले बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से ई पत्रिका का प्रकाशन किया।  बाकी जिंदगी की जी खोलकर जीना चाहते हैं, ताकि बाद में ऐसा न लगे कि मैं तो जीया ही नहीं। शैक्षणिक योग्यता - बी.एससी (पीसीएम), पत्रकारिता स्नातक और एलएलबी, मुख्य कार्य- कन्टेंट राइटिंग, एडिटिंग और रिपोर्टिंग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button