ElectionFeatured

Uttarakhand Election 2022: डोईवाला सीट पर भाजपा आगे, देखें कितने वोटों का अंतर

Uttarakhand
Result Status

Status Known For 70 out of 70 Constituencies
Constituency Const. No. Leading Candidate Leading Party Trailing Candidate Trailing Party Margin Status
   1  2  3  4  5  6  7
Dehradun Cantt. 21 Savita Kapoor
Bharatiya Janata Party i
Suryakant Dhasmana
Indian National Congress i
6434 Result in Progress
Deoprayag 10 Vinod Kandari
Bharatiya Janata Party i
Mantri Prasad Naithani
Indian National Congress i
1298 Result in Progress
Dhanolti 14 Pritam Singh Panwar
Bharatiya Janata Party i
Mahaveer Singh Rangarh
Independent i
1000 Result in Progress
Dharampur 18 VINOD CHAMOLI
Bharatiya Janata Party i
DINESH AGARWAL
Indian National Congress i
801 Result in Progress
Dharchula 42 HARISH SINGH DHAMI
Indian National Congress i
DHAN SINGH DHAMI (DHAN DA)
Bharatiya Janata Party i
4797 Result in Progress
Didihat 43 VISHAN SINGH
Bharatiya Janata Party i
KISHAN BHANDARI
Independent i
698 Result in Progress
Doiwala 23 BRIJ BHUSHAN GAIROLA
Bharatiya Janata Party i
GAURAV (GINNI)
Indian National Congress i
19136 Result in Progress
Dwarahat 48 ANIL SINGH SHAHI
Bharatiya Janata Party i
MADAN SINGH BISHT
Indian National Congress i
1239 Result in Progress
Gadarpur 65 Arvind Pandey
Bharatiya Janata Party i
Premanand Mahajan
Indian National Congress i
6398 Result in Progress
Gangolihat 45 FAKEER RAM
Bharatiya Janata Party i
KHAJAN CHANDRA GUDDU
Indian National Congress i
3462 Result in Progress

newslive24x7

राजेश पांडेय, देहरादून (उत्तराखंड) के डोईवाला नगर पालिका के निवासी है। पत्रकारिता में  26 वर्ष से अधिक का अनुभव हासिल है। लंबे समय तक हिन्दी समाचार पत्रों अमर उजाला, दैनिक जागरण व हिन्दुस्तान में नौकरी की, जिनमें रिपोर्टिंग और एडिटिंग की जिम्मेदारी संभाली। 2016 में हिन्दुस्तान से मुख्य उप संपादक के पद से त्यागपत्र देकर बच्चों के बीच कार्य शुरू किया।   बच्चों के लिए 60 से अधिक कहानियां एवं कविताएं लिखी हैं। दो किताबें जंगल में तक धिनाधिन और जिंदगी का तक धिनाधिन के लेखक हैं। इनके प्रकाशन के लिए सही मंच की तलाश जारी है। बच्चों को कहानियां सुनाने, उनसे बातें करने, कुछ उनको सुनने और कुछ अपनी सुनाना पसंद है। पहाड़ के गांवों की अनकही कहानियां लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं।  अपने मित्र मोहित उनियाल के साथ, बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से डेढ़ घंटे के निशुल्क स्कूल का संचालन कर रहे हैं। इसमें स्कूल जाने और नहीं जाने वाले बच्चे पढ़ते हैं। उत्तराखंड के बच्चों, खासकर दूरदराज के इलाकों में रहने वाले बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से ई पत्रिका का प्रकाशन करते हैं।  बाकी जिंदगी की जी खोलकर जीना चाहते हैं, ताकि बाद में ऐसा न लगे कि मैं तो जीया ही नहीं। शैक्षणिक योग्यता - बी.एससी (पीसीएम), पत्रकारिता स्नातक और एलएलबी, मुख्य कार्य- कन्टेंट राइटिंग, एडिटिंग और रिपोर्टिंग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button