ElectionFeaturedPoliticsUttarakhand

पूर्व सीएम हरीश रावत रामनगर, मोहित उनियाल डोईवाला से कांग्रेस प्रत्याशी

कांग्रेस की दूसरी लिस्ट जारी, अनुकृति गुसाईं को लैंसडौन से बनाया प्रत्याशी

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत रामनगर से चुनाव लड़ेंगे। वहीं, डोईवाला से मोहित उनियाल और ऋषिकेश से जयेंद्र रमोला को प्रत्याशी घोषित किया गया है। वहीं लैंसडौन से अनुकृति गुसाईं को प्रत्याशी घोषित किया गया है। दूसरी लिस्ट में 11 प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की गई है। अभी छह सीटों पर संशय बना है।

देहरादून कैंट से सूर्यकांत धस्माना, ज्वालापुर से बरखा रानी, झबरेड़ा से वीरेंद्र कुमार जत्ती, खानपुर से सुभाष चौधरी, लक्सर से डॉ. अंतरिक्ष सैनी, कालाढूंगी से महेंद्र पाल सिंह और लालकुआं से संध्या डालाकोटी कांग्रेस प्रत्याशी घोषित किए गए हैं। वहीं, सल्ट, टिहरी, नरेंद्रनगर, चौबट्टाखाल, हरिद्वार ग्रामीण और रुड़की विधानसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशियों पर संशय है।

मोहित उनियाल का परिचय

मोहित उनियाल राजीव गांधी पंचायत राज संगठन के उत्तराखंड राज्य संयोजक हैं।

पूर्व में राष्ट्रीय सचिव भारतीय युवा कांग्रेस (गुजरात राज्य प्रभारी), एनएसयूआई राष्ट्रीय कार्यक्रमों के प्रभारी, राष्ट्रीय मीडिया पैनेलिस्ट एआईसीसी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एनएसयूआई, एनएसयूआई (छत्तीसगढ़, अंडमान – निकोबार, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान राज्य प्रभारी एवं जेएनयू प्रभारी) रह चुके हैं।

मोहित उनियाल।

इन पदों पर संभाली जिम्मेदारी
निर्वाचित बूथ अध्यक्ष युवा कांग्रेस (2014-2016)
राष्ट्रीय महासचिव एनएसयूआई  (2013-2014)
राष्ट्रीय सचिव एनएसयूआई (2009-2013)
निर्वाचित राष्ट्रीय प्रतिनिधि , एनएसयूआई (2008-2010)
अध्यक्ष, एनएसयूआई अनुशासन समिति, उत्तराखंड (2008-2009)
अध्यक्ष, खेल प्रकोष्ठ, उत्तराखंड राज्य एनएसयूआई  (2006-2008)
महासचिव, उत्तराखंड राज्य एनएसयूआई (2004-2006)
जिला महासचिव, देहरादून एनएसयूआई (2003- 2004)

निर्वाचित पदों पर कार्यभार
जिला किसान सेवा सहकारी समिति, डोईवाला के निर्वाचित उपाध्यक्ष (2008-2011)
जिला किसान सेवा सहकारी समिति, ग्राम लच्छीवाला, डोईवाला के निर्वाचित निदेशक(2008-2011)

newslive24x7

राजेश पांडेय, देहरादून (उत्तराखंड) के डोईवाला नगर पालिका के निवासी है। पत्रकारिता में  26 वर्ष से अधिक का अनुभव हासिल है। लंबे समय तक हिन्दी समाचार पत्रों अमर उजाला, दैनिक जागरण व हिन्दुस्तान में नौकरी की, जिनमें रिपोर्टिंग और एडिटिंग की जिम्मेदारी संभाली। 2016 में हिन्दुस्तान से मुख्य उप संपादक के पद से त्यागपत्र देकर बच्चों के बीच कार्य शुरू किया।   बच्चों के लिए 60 से अधिक कहानियां एवं कविताएं लिखी हैं। दो किताबें जंगल में तक धिनाधिन और जिंदगी का तक धिनाधिन के लेखक हैं। इनके प्रकाशन के लिए सही मंच की तलाश जारी है। बच्चों को कहानियां सुनाने, उनसे बातें करने, कुछ उनको सुनने और कुछ अपनी सुनाना पसंद है। पहाड़ के गांवों की अनकही कहानियां लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं।  अपने मित्र मोहित उनियाल के साथ, बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से डेढ़ घंटे के निशुल्क स्कूल का संचालन कर रहे हैं। इसमें स्कूल जाने और नहीं जाने वाले बच्चे पढ़ते हैं। उत्तराखंड के बच्चों, खासकर दूरदराज के इलाकों में रहने वाले बच्चों के लिए डुगडुगी नाम से ई पत्रिका का प्रकाशन करते हैं।  बाकी जिंदगी की जी खोलकर जीना चाहते हैं, ताकि बाद में ऐसा न लगे कि मैं तो जीया ही नहीं। शैक्षणिक योग्यता - बी.एससी (पीसीएम), पत्रकारिता स्नातक और एलएलबी, मुख्य कार्य- कन्टेंट राइटिंग, एडिटिंग और रिपोर्टिंग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button