लद्दाख में साढ़े दस हजार साल पुरानी कैंपिंग साइट

0
814

समुद्र की सतह से करीब 14 हजार फीट ऊंचाई पर करीब साढ़े दस हजार साल पुरानी एेसी कैंपिंग साइट की खोज हुई है, जहां इंसान मौजूद थे। ladakh1आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया ने लद्दाख में करीब 8500 ईसा पूर्व की इस कैंपिंग साइट को तलाश किया है। बताया जा रहा है कि यह साइट ला से लद्दाख के रास्ते में खोजी गई है। नुब्रा वैली में

2015-16 में एएसआई को एक ब्लॉक में जली हुई कुछ चीजें मिली थीं। पता चला कि यहां सड़क बनाने के लिए काम चल रहा था। एएसआई ने साइट से कुछ जली हुई चीजों को यह पता लगाने के लिए फ्लोरिडा की बीटा लैब को भेजा कि ये कितने साल पुरानी हैं। इस जांच को रेडियोकॉर्बन टेस्ट कहते हैं।  टेस्ट में पता चला कि यह चारकोल करीब 8500 ईसा पूर्व (BC) का है। जांच के लिए एएसआई अफसरों की टीम को साइट पर भेजेगी। इस खोज से उत्साहित एएसआई खोज तो जारी रखेगी, लेकिन यह काम आसान नहीं है, क्योंकि जहां जांच जारी रहेगी, वहां ऑक्सीजन की कमी रहती है।
टैैग्स
लद्दाख, आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया, रेडियोकॉर्बन टेस्ट,  कैंपिंग साइट, इंसान

LEAVE A REPLY