30.6C
Dehradun, IN
Sunday, September 19, 2021

Blog Live

खबरों के लिए आपको बहुत कुछ झेलना पड़ता है

निगाहें झुकाने वाला कोई काम नहीं करिएगा हम बात कर रहे थे कि अखबारों की प्रतिस्पर्धा...

हाल ए हल्द्वाड़ीः “बचपन से सुन रहे हैं कि हमारे गांव तक रोड आएगी, रोड आएगी…,पर यह कब आएगी”

" मैं उस रात को कभी नहीं भूल सकता। बहुत तेज बारिश हो रही थी। गांव...

कहां गया जल, नलों की टोंटियां घुमाकर रोज देखता है देहरादून का हल्द्वाड़ी गांव

"डेढ़ साल पहले लगे नल में कभी पानी नहीं देखा। हमारे यहां पानी की बहुत...

पलेड की चढ़ाई ने मेरी सांसें फुला दीं, बच्चे तो 16 किमी. रोज चलते हैं

'' मेरा भाई,कक्षा सात में पढ़ता है, उसको स्कूल जाने और आने के लिए करीब...

जानिए, इस मंदिर परिसर में जल स्रोत और संरक्षण के उपाय

मनइच्छा मंदिर परिसर स्थित भैरव गुफा की चट्टान से निरंतर रिसता जल सहित अन्य जल...

हकीकत ए उत्तराखंडः सचिवालय में लड़वाकोट का पत्थर रख दें तो क्या सचिवालय लड़वाकोट हो जाएगा

उत्तराखंड का सरकारी सिस्टम इतना गजब का है कि अगर लड़वाकोट को सचिवालय और सचिवालय...

हकीकत ए उत्तराखंडः पानी की दौड़ में महिलाओं के पास अपने लिए समय कहां है

मैंने न तो मायके में और न ही ससुराल में, नल की टोंटी खोलकर पानी...

हकीकत ए उत्तराखंडः किसान भगवान भरोसे, सिस्टम से उठा विश्वास

गोवा और मुंबई के होटलों में बतौर शेफ नौकरी कर रहे वीरेंद्र को कोविड के...

हकीकत ए उत्तराखंडः खेतू के खेतों में ही सड़ गई अदरक, सरकार को नहीं देता सुनाई

टिहरी गढ़वाल के खेतू गांव में इस बार अदरक की फसल खेतों में ही सड़...

शैल श्रृंख्ला-1ः चकराता के खनाड़ का दलदल वाला रास्ता, किसानों की मुश्किलें, वर्षों पुराने भवन

राजेश पांडेय करीब 25 वर्षीय राहुल भट्ट, चकराता के खनाड़ गांव में खेतीबाड़ी करते हैं।...

लघु किसान नन्हे वर्मा से एक मुलाकात, दिल खुश कर दिया बंदे ने

सार्थक और मैंने, देहरादून से वाया दूधली डोईवाला जाने का मन बनाया। वो इसलिए, क्योंकि...

आपको सलामः दीप्ति ने घर की रसोई से की एक पहल, अब आसमां छूने की तैयारी

राजेश पांडेय मार्केट में गए, तो हमने उनको अपने बनाए मसाले दिखाए तो उन्होंने कह दिया,...

गारे व फूस से बनी रसोई, मिट्टी का चूल्हा, दूध का रेट और समझदार भैंसें

आपको मिलवाते हैं मीर हमजा से, जो खैरी गांव में जंगल के पास रहते हैं।...

युवा बोले, कृषि प्रौद्योगिकी में महिला कृषकों की आवश्यकताएं जानना जरूरी

उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों की कृषि में महिलाओं का योगदान महत्वपूर्ण है, इसलिए कृषि प्रोद्यौगिकी ...

Video: एक दिन की दिहाड़ी 65 रुपये के लिए रोजाना 20 किमी. पैदल चलते हैं 65 साल के बुजुर्ग

राजेश पांडेय “ हमारे पास एक समय में सौ पशु थे, जिनको चराने के लिए जंगल...

किस्से मीडिया केः कुछ लोग अपने हित के लिए रिपोर्टर्स को बना देते हैं प्रतिद्वंद्वी

अखबारों के दफ्तरों में बहुत सारी सूचनाओं को गोपनीय रखना होता है। मैं कुछ एक्सक्लूसिव...

किस्से मीडिया केः जब एक ट्रेनी ने एडिटिंग के नाम पर बायलाइन हटा दी

देर रात साइड स्टोरी को लिखने से हाथ खड़े कर दिए थे इस ट्रेनी ने अखबार...

इन परिवारों को बहुत डराती हैं बारिश वाली रातें

राजेश पांडेय बरसात के साथ हमारी आफत शुरू हो जाती है। हमें नहीं पता, कब सुसुवा...

दून के साइक्लिस्ट की कहानीः आप भी बन सकते हैं साइकिलिंग के सचिन तेंदुलकर

देहरादून के रहने वाले करीब 28 साल के विजय प्रताप सिंह ने 2015 में एमबीए...

उत्तराखंड का धारकोटः  बेहद सुंदर गांव, पानी के लिए जोखिम, आत्मनिर्भरता की पहल

धारकोट उत्तराखंड का बेहद सुंदर गांव है। देहरादून एयरपोर्ट से धारकोट की दूरी करीब 18 किमी. होगी। जब आप देहरादून...

Environment